Print Friendly, PDF & Email

Reference Tab in MS word Hindi

इस lesson में आपको MS word की Reference tab के बारे में बताया जाएगा और आपको reference tab के सभी option का use करना सिखाया जाएगा, तो आइए सीखते हैं reference tab को आप अपने document में कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं:-

Table of content

Book में एक index page होता हैं जो की हमे ये बताता है की कौनसा chapter किस page पर हैं इस index page को बनाने के दो तरीके होते हैं एक होता हैं manual तरीका और दूसरा होता हैं automatic MS word में दोनों तरह के option आपको दिये जाते हैं आइये जानते हैं इसके बारे में detail से table of content हम MS word में कैसे बना सकते हैं और किस तरह से अपना time बचा सकते हैं।

 

How to use Table of content

Table of content को बनाने के लिए आपको अपने हर topic को सबसे पहले heading देनी हैं आपके Document में जितने भी pages हैं उनमे जो आपके topics है जो आप चाहते हो की table of content में show हो तो उन topic को आप heading देंगे।

Topics को heading देने के बाद आपको table of contents के option पर click करना हैं जहां पर भी आप Table को insert करना हैं वही पर आपको cursor को ले जाना हैं, और Table of content को insert कर देना हैं आपका Index तैयार हो जाएगा। आपके index में जितने भी topic होगे उन सभी के page number भी show होंगे।

 

Add text

जिस Page पर आप index बना रहे हैं उस page को भी यदि आप Table of content में लेना चाहते हैं तो उस page को भी आप index में include कर सकते हैं इसके लिए आपको उस page के title को select करना हैं और उसके बाद add text पर clickकरके उसका level set कर देना हैं जो भी आप level set करना चाहते हैं।

 

Update table

जब भी आप Table में कोई भी change करते हैं तो आपको update table करना होता हैं इसमे आपको दो option मिलेगे :-

1. Update page number only

आपने document में यदि कोई नया content डाला हैं तो उसका page number आपके index में show नही होगा उसको add करने के लिए आपको update page number करना होगा।

 2. Update entries table

आपने document में किसी भी तरह का change किया हैं या किसी topic को document में add किया हैं और उसको आप index में add करना चाहते हो तो इसके लिए आपको update entries option का use करना होता हैं।

 

Insert Footnote

Page के important word को footnotes में लिखा जाता हैं Footnotes को हमेशा page के last में बनाया जाता हैं आपने बहुत सी books में देखा होगा की page के footer में बहुत से notes दिये गए होते हैं ज़्यादातर Footnotes में important word mention किए जाते हैं। जो भी आपने text लिखा उससे related आप additional notes बनाना चाहते हो, तो उसको आप footnotes में लिख सकते हैं।

Footnotes में आप देखेंगे की जिस भी word पर आप footnotes डालते हैं उस word पर footnotes का number show हो जाता हैं।

 

Insert EndNote

जब भी आप अपने document में EndNote लगाते हैं तो यह आपके document के last में बनेगा। और जहां पर भी आप EndNote बनाते हो वहाँ पर ये एक roman number में आपको show होगा। 

इसमे आपको navigate भी option दिया जाता हैं। यदि आप serial में देखना चाहते हैं की next EndNote कौनसा हैं इसी तरीके से आपको next footnote देखना हैं वो भी आपको यहा से show कर देगा। यदि आप previous footnote/EndNote पर जाना चाहते हैं, तो उस पर भी आप जा सकते हैं।

 

Show notes

इसमे आपके पास दो option होते हैं पहला View footnote area अगर आप करते हैं तो आपको footnotes वाली जगह पर ले जाएगा। यदि आप View EndNote area करते हैं तो आप EndNote वाली जगह पर चले जाएंगे।

 

Citations and bibliography Group

इस option में हम किसी भी Source को specify कर सकते हैं। जैसे किसी document में  अगर आपको किसी source को credit देना होता हैं, की ये line किसके द्वारा लिखी गयी हैं। उसको हम citation में add कर सकते हैं। citation and bibliography

जैसे की आपके पास History of MS word का topic हैं इसके बारे में आपने बताना हैं की ये Topic किसके द्वारा बताया जा रहा हैं। उन source को site करने के लिए References में insert citations का option दिया गया होता हैं इसको बनाना बहुत ही आसान हैं:-

 

1. Insert citations

Citations को insert करने से पहले आपको citations को add करना पड़ेगा उसके लिए आप Add new source पर जाएंगे तो आपके सामने create source के नाम से एक dialog box open हो जाएगा इसमे आप source को select करेंगे। जैसे- Books, website, Report etc. box में जो भी चीज mention की गई हैं उसको आपने fill करके OK कर देना हैं। आपका citation create हो जाएगा। इसको आप repeat भी कर सकते हो। इसमे आपको बहुत से styles भी दिये गए होते हैं। जिनका आप इस्तेमाल कर सकते हैं। 

 

2. Bibliography

Citation का index बनाने के लिए bibliography का use किया जाता हैं इसमे आपको तीन format दिये जाता हैं। जिनमे आपको bibliography, References, work cited तीनों टेर का use अलग –अलग किया जाता हैं जब आपको author के बारे में बताना होता हैं तब आप bibliography का use करते हैं जब आपको किसी website का reference देना होता हैं तब आप references का use करते हैं और जब आपको किसी क के काम के बारे में बताना होता हैं तब आप work cited का use करते हैं ।

 

3. Manage Sources

आपने data को edit करने के लिए आप manage source पर जाएंगे जैसे आपको किसी citation को delete करना हैं तो आप यहाँ से citation को delete भी कर सकते हैं इसमे Master list और current list होती हैं current list वो होती हैं जो आप citation use कर रहे होते हैं।

 

Captions

इसका काम होता हैं images को caption देना जैसे की math की problems में आपको figure दी जाती हैं। MS word में आप उसको clickable figure बना सकते हैं। जैसे ही आप Figure पर जाकर “ctrl+click” press करोगे, तो आप उसी Figure पर पहुँच जाओगे।

  1. Image में      Figure को देने के लिए आप image को select करेंगे।
  2. Insert caption करेंगे, तो एक dialog box open हो जाएगा।

 

1. Insert table of figure 

आप अपने document पर दी गई सभी figure का एक table create कर सकते हैं और यदि आपने figure के table में कुछ change करना हैं, तो आप update table भी कर सकते हैं।

 

2. Cross-reference

इसका use Document में create की गई figure या equation को text के साथ link करने के लिए किया जाता हैं कैसे आप इसका use कर सकते हैं :-

  1. Cross-reference देना के लिए आपको image को select करना हैं।
  2. इसके बाद आप cross-reference पर click करेंगे जिससे आपकी equation clickable हो जाएगी।

MS word Insert tab table options

Mark Entry

Document में किसी भी important word को highlight करने के लिए और उसका अलग से index तैयार करने के लिए Mark Entry का use किया जाता हैं। जैसे आप किसी word को mark करना चाहते हैं, तो उस word को आपने select करके mark कर लेना हैं। 

Mark index entry में आपके पास तीन option होते हैं Cross-references, Current page और Page range.

mark entry

  1. Cross-references में आपको text डालने का option दिया जाता हैं और ये text आपके document में show होगा। जब आप mark entry करते हैं तो आपके document में show hide enable हो जाता हैं और जिस भी चीज को आपने highlight किया है उसका आप index भी तैयार कर सकते हैं।
  2. Current page mark entry में आपको highlight की गई चीज होने के साथ-साथ page no. भी show होता हैं।

Mark Citation

आपके Document में कुछ important cases, dates, Company name, Author name etc. की details अलग से बनाना चाहते हैं तो वो आप mark citation से कर सकते हैं |जैसे-आपके document में कुछ important dates हैं। उन Dates का आप index बनाना चाहते हैं, तो उसके लिए आप date को select करेंगे और Mark citation पर click करेंगे। उसके बाद आपको category को select करना हैं और category को आप खुद से भी Edit कर सकते हैं। उसके बाद mark पर click कर देना हैं। Insert table पर click करते ही आपके सामने एक index create हो जाएगा।

mark citation 

Mark all का use तब किया जाता हैं जब आप किसी word को mark करते हैं और वो word आपके document में अगर बार-बार repeat होता हैं तब mark all का use किया जाता हैं।

 

How to Learn MS word

MS word को सीखने के लिए हमने complete video course तैयार किया है जिसमे MS word को tips & tricks के साथ सिखाया गया है आप इन Video को एक एक करके देखेंगे तो आप जल्‍दी ही MS Word सीख जायेंगे | इस course को buy करने के लिए नीचे दिये गए link पर click करें |

MS office 2019 Complete course


Related Post

 

Leave a Reply